Home meerut मेरठ झूठे मुकदमो से तंग पीड़ितों ने घेरा एसएसपी कार्यालय, हंगामा

मेरठ झूठे मुकदमो से तंग पीड़ितों ने घेरा एसएसपी कार्यालय, हंगामा

मेरठ। लिसाड़ीगेट क्षेत्र की एक महिला और थाने के कुछ दलालों पर क्षेत्र के एक परिवार के खिलाफ दर्ज कराए गए झूठे मुकदमे के विरोध में दर्जनों क्षेत्रवासियांें ने एसएसपी कार्यालय का घेराव किया। बाद में कमिश्नरी पर पीड़ितों से मिलते हुए एसपी सिटी ने मामले की निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाया। खास बात यह है प्रदर्शनकारी अपने साथ थाने के दलालों और आरोपी महिला के फोटो लगे होर्डिंग साथ लेकर पहुंचे थे।

उज्जवल गार्डन काॅलोनी निवासी सितारा के साथ दर्जनों लोग एसएसपी कार्यालय पहुंचे। प्रदर्शनकारी अपने हाथों में एक होर्डिंग भी लेकर आए थे, जिस पर एक महिला और कुछ युवकों के फोटो लगे थे। सितारा ने आरोप लगाया कि क्षेत्र की निवासी वह महिला और उसके कुछ दलाल साथी युवक आए दिन क्षेत्र के लोगांे के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज कराकर उनसे अवैध वसूली करते हैं। इसी कड़ी में कुछ माह पूर्व एक युवक ने उसके पुत्र वसीम पर अपनी फुफेरी बहन से दुष्कर्म का आरोप लगा उस पर झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया था।

सितारा के मुताबिक उसने अपना मकान बेचकर दूसरे पक्ष को 3.50 लाख की रकम दी। जिसके बाद दूसरे पक्ष से समझौता करके अपना पिंड छुड़ाया था। आरोप है कि अब एक महिला ने उसके दूसरे पुत्र नसीम और भांजे सलीम पर अपनी पुत्री के साथ गैंगरेप का आरोप लगा उन्हें जेल भिजवा दिया। नसीम जमानत पर छूटकर आया तो महिला ने उस पर अपनी पुत्री के अपहरण का झूठा आरोप मढ़ दिया।

बीती 17 तारीख की रात महिला व उसके साथियों ने उसके घर पर हमला बोल दिया। लेकिन आरोपियों से सेटिंग के चलते पुलिस ने उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की। क्षेत्र के निवासियों ने उक्त महिला व उसके साथियांे के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। हंगामे के बाद एसपी सिटी रणविजय सिंह कमिश्नरी पर क्षेत्र के लोगों से मिले। उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच का आश्वासन देते हुए लोगों को वापस भेजा।