Home Agra आगरा पुलिस की मेहरबानियां से लुटेरों के हौसले बुलंद घटना सीसीटीवी कैमरे...

आगरा पुलिस की मेहरबानियां से लुटेरों के हौसले बुलंद घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद, एक महीना के बाद भी लुटेरों को गिरफ्तार ना कर सकी निबोरा पुलिस

आगरा पुलिस की मेहरबानियां से लुटेरों के हौसले बुलंद घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद

आगरा :- शहर में एक के बाद एक बिगड़ती कानून व्यवस्था के मामले सामने आ रहे हैं जहां सरेआम मोटरसाइकिल सवार युवक से बदमाशों ने मारपीट कर राइफल लूट की वारदात कर सबको चौंका दिया इस वारदात मैं ज्ञान सिंह निवासी शाही पुरा प्रधान गन हाउस राजपुर चुंगी से अपनी लाइसेंसी राइफल को लेकर अपने साथी के साथ मोटरसाइकिल से घर जा रहे रास्ते में जेडीएम इंटर कॉलेज पुरा भगतू के सामन पर पहले से मौजूद जितेंद्र उम्मीद तपेंद्र तपेंद्र दिलीप दो अन्य अज्ञात ने मारपीट कर राइफल लूट ली

उक्त घटना कॉलेज में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई फुटेज में साफ दिख रहा है कि कैसे मारपीट कर राइफल लूटी घटना की जानकारी पीड़िता ने थाना निबोरा थाने में दी निबोरा पुलिस ने एनसीआर काटकर ओड़ी खामोशी की चादर आपको अवगत करा दे कि योगी सरकार में शासन के सख्त आदेश है कि पुलिस जनता के प्रति वफादार रहकर, जान मान की रक्षा करें ,और थाने चौकियों में आये पीड़ितों की तुरंत सुनवाई हो, मामले की जांच कराकर तुरन्त कानूनी कार्यवाही की जाए

लेकिन इसके बावजूद पुलिस पीड़ितों की सुनवाई नहीं कर रहीहै  योगीराज में भी पुलिस की मेहरबानियां की खातिर ही पीड़ित दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर है
एक ऐसा ही मामला ताज नगरी आगरा के थाना निबोरा का है जहां मोटरसाइकिल सवार से कुछ बदमाशों ने  दिन दहाड़े मार पीट कर राइफल लूटी गयी ,उक्त घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद होने के बावजूद भी थाना निबोरा पुलिस घटना को मानने के लिए तैयार नहीं है जबकि सीसीटीवी फुटेज घटना के आरोपियों को साफ दर्शा रही है कि मारपीट कर राइफल लूटी की है ।

पीड़िता का आरोप है कि आरोपियों और पुलिस की मिलीभगत से लूटी हुई रायफल पुलिस ने खेत से बरामद कर ली है लेकिन सीसीटीवी फुटेज में राइफल लूट के लुटेरों को पकड़ने में नाकाम है चांदी की चमक के आगे निबोरा पुलिस लूट मानने को तैयार ना होने के कारण ही राइफल के लुटेरे कानून के रक्षकों के सामने मुंह चिढ़ाते हुए खुलेआम घूम रहे हैं बेबस और लाचार खाकी यूं ही सूरदास बनी बैठी है उन्हें ना कानून दिख रहा और ना ही अपने अधिकारियों के आदेश बस चंद्र रुपए की खातिर ईमान बेचने मैं लगी है सीसीटीवी पीड़िता के आधार पर पहचाने गए पांचों युवकों को आज तक पुलिस गिरफ्तार करना भी मुनासिब नहीं समझ रही हां यह जरूर है उल्टा पीड़िता पर क्रॉस केस आगरा में मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की धमकी देने से भी बाज नहीं आ रही

पीड़िता का यह भी आरोप है कि वाह री योगी पुलिस इतनी अपराधियों पर इतनी मेहरबान क्यों है जबकि अभियुक्त पूर्व में हिस्ट्रीशीटर भी रहे  हैं और कई थानों से संगीन  धाराओ में कई बार जेल जा चुके है  उसके बाद भी इन अभियुक्तों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है यदि इस तरह के लोग जेल नही गए तो आगे भी किसी बड़ी घटना को अंजाम देंगे, कोई बड़ी घटना भी हुई तो  इसके जिम्मेदार थाना पुलिस ही होगी  इलाके के लोगों का आरोप है कि ऐसी वारदातें आज दिन होने के उपरांत भी इलाका पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रहती है